दुग्ध विकास, पशुधन और गोवंश के संबंध में समीक्षा, 50 लाख से 01 करोड़ रुपये की धनराशि उपलब्ध कराने के निर्देश


दुग्ध विकास, पशुधन और गोवंश के संबंध में समीक्षा, 50 लाख से 01 करोड़ रुपये की धनराशि उपलब्ध कराने के निर्देश
श्री योगी आदित्यनाथ 


निराश्रित गौवंश आश्रय स्थलों की स्थापना


उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ ने आज शास्त्री भवन में दुग्ध विकास, पशुधन और गोवंश के संबंध में समीक्षा बैठक की। श्री योगी आदित्यनाथ ने पशुधन विभाग को निराश्रित गोवंश आश्रय स्थलों की स्थापना के लिए प्रत्येक जिलाधिकारी के निवर्तन पर 50 लाख से 01 करोड़ रुपये की धनराशि उपलब्ध कराने के निर्देश दिए।

यह भी पढ़े - कुशीनगर एयरपोर्ट को 15 जून से पूर्व एयरपोर्ट का कार्य पूरा कराने का डीएम का निर्देश


उन्होंने कहा कि जिलाधिकारी धनराशि का उपयोग अन्य योजनाओं के साथ डवटेलिंग करते हुए निराश्रित गोवंश आश्रय स्थलों के लिए अवस्थापना सुविधाएं विकसित करने में करें। निराश्रित गोवंश की समस्या पाए जाने पर संबंधित जिलाधिकारी, जिला पंचायत, क्षेत्र पंचायत और मुख्य पशु चिकित्साधिकारी उत्तरदायी होंगे। पशुओं के भरण-पोषण आदि के लिए आवर्ती व्यय के लिए जन सहयोग प्राप्त किया जाए। पिंजरापोल, कांजी हाउस आदि की व्यवस्था को तत्काल प्रभाव से क्रियाशील किया जाए

रामलीला के शोध, सर्वेक्षण पर 50 लाख स्वीकृत


श्री योगी आदित्यनाथ ने निर्देश दिए कि अयोध्या में रामलीला का निरंतर आयोजन सुनिश्चित किया जाए। प्रदेश में होने वाली रामलीलाओं को बढ़ावा देने के लिए उन्हें सभी प्रकार का सहयोग प्रदान करते हुए अनुदान भी दिया जाए। अयोध्या में आयोजित होने वाले ‘दीपोत्सव’ में प्रत्येक वर्ष विभिन्न देशों के राष्ट्राध्यक्षों को आमंत्रित किया जाए।

यह भी पढ़े - विपक्षी दलों के साथ बीजेपी विधायक प्रभारी मंत्री के सामने सरकार से सवाल कर बैठे


श्री योगी आदित्यनाथ को जानकारी दी गई कि भारत सरकार के संस्कृति मंत्रालय की ओर से रामलीला के शोध, सर्वेक्षण एवं प्रदर्शन के लिए 50 लाख रुपये की धनराशि स्वीकृत की गई है।


0/Post a Comment/Comments

Stay Conneted

Featured