Header Ads

कुशीनगर के हेतिमपुर में फाइटर प्लेन क्रैश, पायलट ने पैराशूट का प्रयोग कर बचाई जान

कुशीनगर के हेतिमपुर में फाइटर प्लेन क्रैश, पायलट ने पैराशूट का प्रयोग कर बचाई जान
कुशीनगर के हेतिमपुर में फाइटर प्लेन क्रैश, पायलट ने पैराशूट का प्रयोग कर बचाई जान



कुशीनगर जिले के कसया थानाक्षेत्र के गांव हेतिमपुर में सोमवार को दोपहर भारतीय वायु सेना का एक लड़ाकू विमान मिग-21 नियमित परीक्षण उड़ान के वक्त क्रैश हो गया। घटना में विमान में सवार पायलट की जान बच गई। 



उड़ान भरने के 10 मिनट बाद ही विमान का संपर्क एयरबेस से संपर्क टूट गया था। सुपर सोनिक विमान जगुआर उड़ान भरने के तुरंत बाद क्रैश हो गया। जगुआर ने गोरखपुर एयरबेस से उड़ान भरी थी, प्लेन क्रैश होने से पहले ही पायलट ने सूझ-बूझ से अपनी जान बचा ली। क्रैश होने से ठीक पहले पायलट विमान से बाहर निकलने में कामयाब रहा।


यह भी पढ़े - कुशीनगर : कसया-तुर्कपट्टी मार्ग पर गड्ढे में पलटा टेंपो, यात्री की मौत, सात घायल



पायलट ने समझदारी का परिचय दिया और विमान आबादी वाले इलाके में क्रैश ना होकर खेतों में जा गिरा, जिससे आमजन को कोई नुकसान नहीं पहुंचा। पायलट विंग कमांडर कटोच विमान के जमीन पर गिरने के पूर्व ही पैराशूट के सहारे कूद गए। मौके पर वायु सेना व प्रशासन के आला अधिकारी पहुंच गए। घायल पायलट को इलाज के लिये ले जाया गया है। 



वायुसेना की ओर से इस मामले में कोर्ट ऑफ इंक्वायरी का आदेश जारी किया गया है। हादसे के बाद वायुसेना की ओर से सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया गया है, इस ऑपरेशन में दो हेलिकॉप्टरों को लगाया गया है।


यह भी पढ़े - पचास हजार का इनामी शातिर कैश वैन लूटेरा गिरफ्तार


विमान क्रैश होने की घटना कुशीनगर जिले के हेतिमपुर भैसहा सदर टोला में हुई। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार जमीन पर गिरने के पूर्व ही विमान में विस्फोट के साथ आग लग गई। वायुसेना के गोरखपुर स्टेशन से एक साथ तीन विमान परीक्षण उड़ान पर निकले थे। साथ के दोनों विमान के पायलट आसमान से ही घटना की निगरानी किये। मौके पर वायुसेना के एक हेलीकाप्टर(एयर एम्बुलेंस) से सहायता दल मौके पर पहुंच गया।



तेज हवाओं के साथ आग ने चंद मिनट में ही विमान को खाक में बदल दिया। सिंगल सीटर विमान का पायलट पैराशूट की मदद से कूदने में सफल रहा है। इस हादसे में पायलट पैराशूट की मदद से सुरक्षित नीचे उतर गया था।



No comments