Header Ads

कुशीनगर : लेखपालों ने कैंडल मार्च निकाल जताया विरोध

कुशीनगर : लेखपालों ने कैंडल मार्च निकाल जताया विरोध


कुशीनगर: जनपद के पडरौना में अपनी मांगों को लेकर मंगलवार को लेखपाल सड़क पर उतरे और शाम को कैंडल मार्च निकाल अपना विरोध जताया। नारेबाजी की तो सरकार पर संवदेनहीनता का गंभीर आरोप लगाया। 





उन्होंने मांग की, सरकार लेखपाल, कर्मचारियों की पुरानी पेंशन योजना बहाल करे, लेखपाल के सेवाकाल में तीन प्रमोशन जारी किया जाए, 2800 ग्रेड पे दिया जाए, वेतन विसंगतियों को दूर किया जाए, लेखपालों के निजी अनुरोध पर प्रदेश में तबादला हो, प्रमोशन किया जाए । 

यह भी पढ़े - यूपी की योगी सरकार ने सभी विभागों के हड़ताल पर लगाया छह महीने का प्रतिबंध


कैंडल मार्च निरीक्षण भवन से प्रारंभ होकर सुभाष चौक, तिलक चौक होकर कठकुइया मोड़ पर गांधी प्रतिमा के समक्ष समाप्त हुआ। इस दौरान योगेन्द्र गुप्ता, वंशबहादुर यादव, प्रद्युम्न राव, अकरम अली, निलेश रंजन राव, नीरज दुबे, बलराम कुशवाहा, राहुल, कमलेश, प्रमोद यादव, उत्कर्ष , राकेश तिवारी आदि मौजूद रहे।

क्रमबद्ध रूप से चलेगा लेखपालों का आंदोलन




योगी सरकार द्वारा मांग नहीं माने जाने से नाराज लेखपाल संघ गांधीवादी आंदोलन की राह पर चल पड़ा है। लेखपालों ने अध्यक्ष ब्रजेश मणि त्रिपाठी के नेतृत्व में कैंडल मार्च निकाल कर सरकार के प्रति अपना विरोध दर्ज कराया। 

यह भी पढ़े - दो शराबियो का झगड़ा छुड़ाने गए दुकानदार को कुदाल से काटा


लेखपाल संघ अध्यक्ष ने कहा कि लेखपाल संघ लंबित मांगों को लेकर पिछले कुछ दिनों से आंदोलन कर रहा है। बीते वर्ष की 16 जुलाई को सरकार के मुख्य सचिव के साथ बैठक हुई थी। इसमें सभी मांगों को माने जाने का आश्वासन दिया गया था, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। बताया कि 12 फरवरी को जिला मुख्यालय पर मोटरसाइकिल रैली, 19 फरवरी को तहसीलों पर बुद्धि-शुद्धि यज्ञ किया जाएगा।


तहसील से कैंडल लेकर निकले लेखपाल गांधी चौक पर पहुंचे और महात्मा गांधी की प्रतिमा के सामने संक्षिप्त सभा की। इस अवसर पर राजस्व संघ जिलाध्यक्ष सुरेंद्र कुमार श्रीवास्तव, हरिशंकर सिंह, मारकंडेय मणि, अवधेश पांडेय, सुरेश यादव,दीपू जायसवाल आदि उपस्थित रहे।

No comments