Header Ads

कुशीनगर : कलयुगी पत्नी ने रची पति हत्या की साजीश, हत्यारा प्रेमी औऱ प्रेमिका गिरफ्तार


Kushinagar News in Hindi
कुशीनगर  कलयुगी पत्नी ने रची पति हत्या की साजीश, हत्यारा प्रेमी औऱ प्रेमिका गिरफ्तार

हत्यारा प्रेमी औऱ प्रेमिका गिरफ्तार,हत्या में प्रयुक्त लोहा की राड बरामद






कुशीनगर : जनपद के तरया सुजान पुलिस ने थानाक्षेत्र के माधोपुर बुजुर्ग में बड़ी गंडक नहर किनारे हुए हत्या के मामले का पर्दाफाश कर दिया। 

यह भी पढ़े - पुरस्कार घोषित दो शातिर अपराधी गिरफ्तार, कब्जे से तमंचा कारतूस बरामद

खुलाशा करने वाली टीम को पुलिस अधीक्षक ने दिया दस हजार रुपये का इनाम



पुलिस अधीक्षक राजीव नरायण मिश्र के दिशा निर्देश में क्षेत्राधिकारी तमकुहीराज राणा महेन्द्र प्रताप सिंह के पर्यवेक्षण और नेतृत्व में आज तरयासुजान पुलिस ने उक्त घटना का सफल अनावरण आज कर दिया। उक्त हत्या की घटना मृतक की पत्नी व उसके प्रेमी ने अंजाम दिया था। घटना के अनावरण करने वाली टीम को पुलिस कप्तान ने दस हजार नगद पुरस्कार देने की घोषणा किया है।




तरयासुजान थाना क्षेत्र के माधोपुर नहर के पटरी पर मिली थी मृतक ध्रुप सिह का शव


यह भी पढ़े - कुशीनगर : पुलिस ने इनामी अपराधियों को दबोचा


पिछले 28 अप्रैल को माधोपुर बुजुर्ग के मुख्य पश्चिमी गंडक नहर किनारे पटरी पर बाघाचौर निवासी ध्रुप सिह की हत्या कर शव फेका गया था। सूचना पाकर मौके पर पहुँची मुकामी पुलिस शव को कब्जे में लेकर मृतक के पत्नी के तहरीर पर अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच पड़ताल में जुटी हुई थी।





 रविवार को घटना का खुलासा करते हुए सीओ राणा महेन्द्र प्रताप सिंह ने बताया कि मृतक की पत्नी अभावती का अहिरौलीदान निवासी सुरेन्द्र सिह के साथ नाजायज संबंध थे। मृतक ध्रुप बिहार में कबाड़ी का कार्य करता था। उसके द्वारा पत्नी व उसके प्रेमी के नाजायज संबंध का बिरोध किया जाता था। जिससे नाराज होकर उसकी पत्नी व प्रेमी ने साजिश के तहत उसे बिहार से बुलाकर घटनास्थल पर ले जाकर पीछे से सिर पर लोहे के रॉड से वार करके उसकी हत्या कर दी गयी।

यह भी पढ़े - कप्तानगंज क्षेत्र के पचार में बंद कमरे में मिलीं सड़ी हुई तीन लाशें

खुलाशा करने वाली पुलिस टीम 








 उसके बाद घटना को छुपाने के लिए रॉड को नहर में फेंक दिया गया। वही आरोपियों ने घटना को दूसरा स्वरूप देने का भरसक प्रयास किया। उन्होंने बताया कि मामले का अनावरण करने वाली टीम में प्रभारी निरीक्षक सुशील कुमार शुक्ला, उपनिरीक्षक राघवेंद्र सिह, आरक्षी बीरा प्रसाद, मानवेन्द्र सिंह, मनोज कुमार यादव व सुनीता यादव शामिल रहे। इस घटना की खुलाशा करने वाली टीम को पुलिस अधीक्षक द्वारा दस हजार रुपये से पुरस्कृत करने की घोषणा की गई है।


यह भी पढ़े - भाजपा नेता बोले दो गुजराती ठग लोगों को बेवकूफ बना रहे हैं, 6 साल के लिए पार्टी से निलंबित


1 comment: