Header Ads

जमीन के झगड़े में रामकोला पुलिस की निंदनीय कार्यवाही, दो दर्जन घायल, महिला का गर्भपात

रामकोला थाना क्षेत्र के ग्राम सभा खोटही के हरदी छपरा गांव


कुशीनगर : जनपद के रामकोला थाना क्षेत्र के ग्राम सभा खोटही के हरदी छपरा गांव में पुलिस ने खूब तांडव किया। हर्दी छापर में एक जमीनी विवाद में पहुँचे पुलिस कर्मियों ने बर्बरता पूर्वक लाठिया बरसाई, जिसमें दो दर्जन लोग घायल हो गए। घायलों में बच्चे, महिलाएं, बुजुर्ग और युवक शामिल हैं। आरोप है कि पुलिस के लाठी से एक गर्भवती का गर्भ गिर गया। पुलिस के खिलाफ ग्रामीणों ने गांव के बाहर धरना शुरू कर दिया है।





रामकोला थाना क्षेत्र के खोटही पुलिस चौकी की पुलिस एक जमीनी बिबाद को लेकर गुरुवार की रात 9 बजे इस गांव में पहुँची थी। आरोप है गांव में आते ही लाठी भाजना शुरू कर दिया और जो जहां मिला उसे पीटना शुरू कर दिया। गांव वालों के अनुसार एक दर्जन की संख्या में पुलिस और उनके प्राइवेट लोग आए थे। 



पुलिस की लाठी से बबिता देवी, मिथिलेश, भूलना, शिवकुमार, छोटेलाल, विन्ध्याचल, रुदल सहित दो दर्जन लोग घायल हो गए हैं।





शुक्रवार को पुलिसिया कारवाई से नाराज ग्रामीणों ने गांव के बाहर धरना शुरू कर दिया। ग्रामीणों के समर्थन में ग्राम सभा खोटही प्रधान वैद्यनाथ साहनी, भाकियू भानू गुट के जिलाध्यक्ष रामचंद्र सिंह और ग्राम सभा पगार प्रधान अनूप चौधरी आदि पहुँचे थे।




इस बर्बरतापूर्ण कार्यवाही के विरोध में सुबह पीड़ित लोगों के साथ ग्रामीणों ने प्रदर्शन कर दोषी पुलिस कर्मियो पर कार्यवाही की मांग की।


शायद अंग्रेज भी इतनी कोड़े नहीं मारते होंगे जितनी एक सूचना पाकर रामकोला थाना क्षेत्र के खोटही पुलिस चौकी पर तैनात कथित राकेश रोशन सिंह नामक चौकी प्रभारी ने पैसे की भूख से हैवान बन निर्दोष ग्रामीणों पर लाठियां औऱ हॉकी जम कर बरसाई ।







बताया जा रहा है कि खोटही पुलिस चौकी क्षेत्र निवासी एक गुप्ता परिवार गांव में हरिजन आबादी में अपना घर बनाया है तो वही वहां के बस्ती के लोगों का आपत्ति है मामला तो राजस्व विभाग का है पर खोटही पुलिस चौकी के पुलिस नाजायज धंधे में लगी धन उगाही के चक्कर में खूंखार रूप ले लिया है। जहा ऐसे खूंखार खूनी दरोगा के दहशत गर्दी से गांव में भय का माहौल बना हुआ है।इसका जीवंत उदाहरण है जहा निहत्थे निर्दोष गुप्ता परिवार पर लाठियों से पीट-पीटकर अधमरा कर दिया है।


No comments