Header Ads

अवैध शराब तस्कर गिरोह का पर्दाफाश, 17 लाख शराब के साथ तस्कर गिरफ्तार

UPP Kushinagar


कुशीनगर : उतर प्रदेश में सूबे की पुलिस शराब तस्करी पर नियंत्रण करने के साथ तस्करो के मंसूबे पर पानी फेरने के लिये निरन्तर प्रयासरत है।  फिर भी प्रदेश के आखिरी छोर पर बसा कुशीनगर बिहार प्रदेश के गोपालगंज जिला को जोड़ने वाला जनपद के पुलिस अधीक्षक श्री डॉ राजीव नारायण मिश्र की पुलिस लगतार शराब तस्करो की कमर तोड़ने में दिन रात जुटी है। इस क्रम में बीती रात जनपद की कसया पुलिस ने एक ट्रक से बिहार जा रही शराब की खेप को उस समय पकड़ा, जब वह बिहार निकलने वाला ही था।







कुशीनगर पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी




बीते छ अगस्त को कसया पुलिस ने राष्ट्रीय राज मार्ग 28 बरवा जंगल के समीप बबलू ढाबा पर अवैध शराब से लदा खड़ी एक ट्रक को पकड़ा। पुलिस ने ट्रक व खलासी को कब्जे में लेकर थाने लाई। जहाँ ट्रक को सीज करते हुए दो नामजद सहित तीन लोगों को सुसंगत धाराओं में मुकदमा परजीकृत कर जाँच पड़ताल में जुटी हुई है। 




जानकारी के अनुसार मंगलवार की देर रात एसएचओ कसया ज्ञानेन्द्र कुमार राय, उपनिरिक्षक रामचन्द्र सिंह यादव, उमेश यादव, सिपाही उदयभान मिश्रा, मनोज कुमार, विजय यादव आदि ने नेतृत्व में राष्ट्रीय राज मार्ग 28 पर चेकिंग अभियान चलाया जा रहा था। इसी दौरान बरवा जंगल के समीप स्थित बबलू ढाबा पर खड़ी ट्रक को पुलिस ने शक के आधार पर पूछताछ किया। इसी दौरान चालक पुलिस को देख मौके से फरार हो गया। पुलिस के जांच पड़ताल में ट्रक से 855 पेटी अवैध देशी शराब बंटी बबली बरामद हुआ। 




बताया जाता है कि ट्रक गोरखपुर से बिहार तस्करी के लिए जा रहा था। ट्रक व खलासी को कब्जे में लेते हुए थाने लाई। जहाँ ट्रक संख्या एचआर 46 सी 6872 को सीज करते हुए खलासी परबिंदर मेहता पुत्र मुनचंद्र निवासी बाबा कालोनी सोनपथ, हरियाणा, चालक विक्रम पुत्र अज्ञात निवासी विन्द गोहाना पंजाब व ट्रक मालिक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर खलासी को जेल भेजने की कार्यवाई में जुटी हुई है। वही मौके से फरार अभियुक्त बिक्रम पुत्र अज्ञात निवासी पंजाब प्रदेश की सरगर्मी से तलाश की जा रही है।






क्या कहते है पुलिस अधीक्षक राजीव नारायण मिश्र


इस बड़ी बरामदगी के बाद एक प्रश्न के जबाब में पुलिस अधीक्षक राजीव नारायण मिश्र कहते है की अबैध शराब के निष्कर्षण, परिगमन के विरुद्ध अभियान चलता ही रहेगा।तस्करो के रैकेट को चिंहत करने की भी कार्रवाई चल रहा है। जनपद पुलिस शराब तस्करी रोकने के लिये सदैव सक्रिय है। जिसका परिणाम है यह शराब बरामदगी का हिस्सा।

No comments