Header Ads

यूपी में बढ़ रहा कोरोना का कहर, 24 घंटे में मिले 11 कोरोना के पॉजिटिव मरीज

यूपी में बढ़ रहा कोरोना का कहर, 24 घंटे में मिले 11 कोरोना के पॉजिटिव मरीज




लखनऊ : उत्तर प्रदेश में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या धीरे धीरे बढ़ती जा रही है। शनिवार को यूपी में अब तक सबसे अधिक मरीजों में कोरोना पॉजिटिव  की पुष्टि हुई है। शनिवार शाम तक 11 कोरोना के पॉजिटिव मरीज मिले। 






इस तरह यूपी में कोरोना के मरीजों की संख्या बढ़कर 55 हो गई है। आज सिर्फ नोएडा में सबसे अधिक नौ लोगों को कोरोना वायरस पाए गए है। मेरठ और वाराणसी के 1-1 मरीज शामिल हैं।  राज्य में अभी तक 75  में से 13 जिलों में संक्रमण के मामले सामने आए हैं। 

यह भी पढ़े - कोरोना की जंग के जांबाजों के लिए सीएम का घंटनाद, 15 जिलों मेंं लॉक डाउन का एलान


इस बीमारी से अब तक प्रदेश में 14 मरीज ठीक भी हो चुके हैं। प्रदेश के विभिन्न जिलों के अस्पतालों में कोरोना वायरस के 41 संदिग्ध मरीज़ भर्ती हैं। प्रदेश में कोरोना के मरीजों के लिए 5000 से ज़्यादा आइसोलेशन बेड और 6000 क्वारेंटीन बेड तैयार कर लिए गए हैं । 





यूपी के स्वास्थ्य विभाग के प्रमुख सचिव अमित मोहन प्रसाद ने अपर मुख्या सचिव गृह अवनीश अवस्थी के साथ शनिवार को आयोजित एक संयुक्त प्रेस कांफ्रेंस मेंबताया कि अब तक  लिए गए जांच नमूनों  में 1 हजार 993 निगेटिव और 55 पॉजिटिव पाए गए हैं। 148 जांच नमूनों की  रिपोर्ट का इंतज़ार है। प्रमुख सचिव ने यह भी बताया प्रदेश में प्राइवेट सेक्टर के अस्पतालों की मदद से आइसोलेशन बेड की संख्या को 15 हजार और 20 हज़ार क्वारेंटीन बेड तैयार करने की योजना है। 







स्वास्थ्य विभाग ने प्रदेश में कोरोना वायरस के मरीज़ों के इलाज के लिए त्रि स्तरीय व्यवस्था की है। हर ज़िले में दो सामुदायिक स्वास्थ केंद्र खाली कराकर उन्हें कोविड अस्पताल बनाया गया है। 

         
अपर मुख्य सचिव सूचना व गृह अवनीश अवस्थी ने बताया कि पिछले चार दिनों में 26 हजार 298 होम डिलीवरी करने के साधन उपलब्ध कराए गए । प्रदेश की 8 हजार 833 दुकानों व मॉल से सामान घरों में पहुंचाया जा रहा हैं । 8 हजार 552 दुग्ध वाहन घर-घर दूध पंहुचा रहे हैं । प्रदेश में 527 कम्युनिटी किचन चालू किये गए हैं। जहां फ़ूड पैकेट बनाकर गरीबों और असहायों को वितरित किये जा रहे हैं। उन्होंने बताया प्रदेश में 3 करोड़ 23 लाख 94 हज़ार राशन कार्ड धारक हैं। इनमें से 1 करोड़ 94 लाख 44 हज़ार राशन कार्ड धारकों को खाद्यान्न वितरित किया गया है। 





70 लाख अन्तोदय कार्ड धारकों को भी राशन कार्ड दिया गया है । श्री अवस्थी ने कहा कि सीएम ने यह भी कहा है कि कोई व्यक्ति भूखा न रहे। भोजन और राशन के इन्तेजाम इसीलिए किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस से बचाव के लिए नोएडा और ग़ाज़ियाबाद के प्रशासन को इलाज की व्यवस्था और सुधारने के निर्देश दिए गए हैं। श्री अवस्थी ने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को पीजीआई के कोविड अस्पताल कि व्यवस्था का भी जायज़ा लिया । महानगर में कम्युनिटी किचन कि व्यवस्था को भी देखा ।

No comments